शेर.. शायरी.. गीत..

मेरा संग्रह.. कुछ नया-कुछ पुराना..

यादें.. तेरी यादें..

Yaadein..
उन लम्हों को कैसे ज़िन्दा करूं..
सांसें मैं लूं फ़िर भी पल-पल मरूं..
 
यादें.. यादें.. यादें.. तेरी यादें.. यादें.. यादें..
बातें.. बातें.. बातें.. तेरी.. बातें.. बातें.. बातें..
 
हल्की सी आहट हो तो लगे तुम आगये..
क्यूं तन्हा छोडकर मुझको रुला गये..
 
महफ़ूज़ है तू मेरी हर एक याद मैं..
बिखरा हुआ.. हुआ हूं बरबाद मैं..
 
यादें.. यादें.. यादें.. तेरी यादें.. यादें.. यादें..
बातें.. बातें.. बातें.. तेरी.. बातें.. बातें.. बातें..
 
मेहरूम हूं मैं तेरी हर एक बात से..
ना कोई नाता.. अब दिन और रात से..
 
हर लम्हा तड्प, हर लम्हा तेरी प्यास है..
जब से मैं हूं जुदा तेरे साथ से..
 
यादें.. यादें.. यादें.. तेरी यादें.. यादें.. यादें..
बातें.. बातें.. बातें.. तेरी.. बातें.. बातें.. बातें..
 
उन लम्हों को कैसे ज़िन्दा करूं..
सांसें मैं लूं फ़िर भी पल-पल मरूं..

A song by – Amit Sana..
Album – Yaadein

Advertisements

मई 15, 2008 - Posted by | गीत, हिन्दी

7 टिप्पणियाँ »

  1. एकदम ही गायब हो? हो कहाँ? सब ठीक ठाक तो है. नियमित लिखने के लिए शुभकामनाऐं.

    टिप्पणी द्वारा समीर लाल | मई 16, 2008 | प्रतिक्रिया

  2. लब पे आती है दुआ बनके तमन्ना मेरी

    जिन्दगी शम्मा की सुरत हो ख़ुदाया मेरी

    दूर दुनिया का मेरे दम अँधेरा हो जाए
    हर जगह मेरे चमकने से उजाला हो जाये

    Achhi collection hai, logo ko khush karte raho…Best of Luck

    टिप्पणी द्वारा niyamak | जून 7, 2008 | प्रतिक्रिया

  3. करके मोहब्बत अपनी खता हो.. ऐसा भी हो सकता है..
    वोह अब भी पाबंद-ए-वफ़ा हो.. ऐसा भी हो सकता है..
    दरवाजे पर आहट सुनके उसकी तरफ़ ध्यान क्यूं गया..
    आने वाली सिर्फ़ हवा हो.. ऐसा भी हो सकता है..
    वोह अब भी पाबंद-ए-वफ़ा हो.. ऐसा भी हो सकता है..
    अर्ज़-ए-तलब पे उसकी चुप से ज़ाहिर है इंकार मगर..
    शायद वो कुछ सोच रहा हो.. ऐसा भी हो सकता है..
    वोह अब भी पाबंद-ए-वफ़ा हो.. ऐसा भी हो सकता है..

    टिप्पणी द्वारा muzaffar | नवम्बर 2, 2008 | प्रतिक्रिया

  4. […] यादें.. तेरी यादें.. उन लम्हों को कैसे ज़िन्दा करूं.. सांसें मैं लूं फ़िर भी पल-पल मरूं..   यादें.. यादें.. यादें.. तेरी यादें.. यादें.. यादें.. बातें.. बातें.. बातें.. तेरी.. बातें.. बातें.. बातें..   हल्की सी आहट हो तो लगे तुम आगये.. क्यूं तन्हा छोडकर मुझको रुला गये..   महफ़ूज़ है तू मेरी हर एक याद मैं.. बिखरा हुआ.. हुआ हूं बरबाद मैं..   यादें.. यादें.. यादें.. तेरी यादें.. यादें.. यादें.. बातें.. बातें.. बातें.. तेरी.. बातें.. बातें.. बातें..   मेहरूम हूं मैं तेरी हर एक बात से.. ना कोई नाता.. अब दिन और रात से..   हर लम्हा तड्प, हर लम्हा तेरी प्यास है.. जब से मैं हूं जुदा तेरे साथ से..   यादें.. यादें.. यादें.. तेरी यादें.. यादें.. यादें.. बातें.. बातें.. बातें.. तेरी.. बातें.. बातें.. बातें..   उन लम्हों को कैसे ज़िन्दा करूं.. सांसें मैं लूं फ़िर भी पल-पल मरूं.. […]

    पिंगबैक द्वारा यादें.. तेरी यादें.. | Muskan | जून 12, 2012 | प्रतिक्रिया

  5. […] यादें.. तेरी यादें.. […]

    पिंगबैक द्वारा Yaadein.. Tumse Khafa hai Hum | Muskan | जून 12, 2012 | प्रतिक्रिया

  6. […] यादें.. तेरी यादें.. उन लम्हों को कैसे ज़िन्दा करूं.. सांसें मैं लूं फ़िर भी पल-पल मरूं..   यादें.. यादें.. यादें.. तेरी यादें.. यादें.. यादें.. बातें.. बातें.. बातें.. तेरी.. बातें.. बातें.. बातें..   हल्की सी आहट हो तो लगे तुम आगये.. क्यूं तन्हा छोडकर मुझको रुला गये..   महफ़ूज़ है तू मेरी हर एक याद मैं.. बिखरा हुआ.. हुआ हूं बरबाद मैं..   यादें.. यादें.. यादें.. तेरी यादें.. यादें.. यादें.. बातें.. बातें.. बातें.. तेरी.. बातें.. बातें.. बातें..   मेहरूम हूं मैं तेरी हर एक बात से.. ना कोई नाता.. अब दिन और रात से..   हर लम्हा तड्प, हर लम्हा तेरी प्यास है.. जब से मैं हूं जुदा तेरे साथ से..   यादें.. यादें.. यादें.. तेरी यादें.. यादें.. यादें.. बातें.. बातें.. बातें.. तेरी.. बातें.. बातें.. बातें..   उन लम्हों को कैसे ज़िन्दा करूं.. सांसें मैं लूं फ़िर भी पल-पल मरूं.. […]

    पिंगबैक द्वारा Yaadein.. Tumse Khafa hai Hum | Muskan | जून 12, 2012 | प्रतिक्रिया

  7. shayad yad aajaye o dhundle aaine mere
    hamneto jamaneko badlnaki kasam khai hai

    aakhari saso tak dekhate rahenge rahe teri
    daaman chune nikale magar rah me ruswai hai

    mkbijewar (aatish)

    टिप्पणी द्वारा mkbijewar | मार्च 28, 2013 | प्रतिक्रिया


एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: